Posted in Interviews

परम पिता परमात्मा की रहमत हुई, एक और पुष्प खिला अनुराधा प्रकाशन को आशा जी रूपी,सुगँधित सुमन मिला

अनुराधा प्रकाशन परिवार से जुड़ी एक अद्वित्तीय साहित्य सेविका,पटना विश्वविद्यालय में हिंदी साहित्य के शिक्षण से सेवा निवृत, आदरणीय श्रीमति आशा सहाय जी ने अनुराधा प्रकाशन की सदस्यता स्वीकार कर के हिंदी साहित्य में अपना योगदान देने की सहमति दी है। अनुराधा प्रकाशन परिवार में आपका अभिनँदन है आशा जी।आशा…

Continue Reading...
Posted in Interview Interviews

श्रेष्ठ व्यावहारिक अध्यात्म व्यक्तित्व 88 वर्षीय एडवोकेट श्री उमाकान्त त्रिपाठी से साक्षात्कार (दिसंबर २००५ में लिया साक्षात्कार)

आज के बदलते परिवेश में परिवारों के विघटन व उससे सम्बंधित बढ़ती समस्याओं के चलते हमने समस्त पाठकों व समाज के निमित्त एक श्रेष्ठ व्यावहारिक आध्यात्मिक  व्यक्तित्व श्री उमाकान्त त्रिपाठी जी का साक्षात्कार प्रस्तुत कर रहे हैं, जिन्होंने बड़ी सफलतापूर्वक अपने बच्चों को शिक्षा–दीक्षा में निपुण किया तथा उन्हें सुसंस्कारित…

Continue Reading...
Posted in Interview Interviews

सम्मानित संरक्षक डॉक्टर सुधीर सिंह जी का साक्षात्कार

मित्रो! बड़े गर्व एवं उत्साह के पल है, अनुराधा प्रकाशन परिवार में सम्मानित संरक्षक के रूप में डॉक्टर सुधीर सिंह (भागलपुर, बिहार) जुड़े हैं,  आप भागलपुर यूनिवर्सिटी में प्रिंसिपल के पद से सेवानिवृत हुए हैं, गत तीन वर्षों में आपकी अनुराधा प्रकाशन से 5 पुस्तकें प्रकाशित हुई हैं, जिनमे जीवन…

Continue Reading...